मानसिक मंदता/बौद्धिक अक्षमता के बारे में 11 मिथक और सत्य (11 Misconceptions and Truth about Mental Retardation/Intellectual Disability)


मानसिक मंदता या बौद्धिक अक्षमता के बारे में आपने भी कुछ बाते जरूर सुनी होंगी लेकिन आप शायद ही ये जानते हों कि क्या वे सच बातें  है या झूठ।  
आज के समय में यद्यपि शिक्षा का विस्तार हुआ है किन्तु फिर भी हमारे देश में आज भी ऐसे बहुत से क्षेत्र है जहाँ पर शिक्षा और जागरूकता की बहुत ज्यादा कमी है  ऐसे क्षेत्रों में ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र ही हैं। यदि आप  ग्रामीण क्षेत्र से सम्बन्ध रखते हैं तो आप ने  स्वयं ही देखा होगा कि दिव्यांग बच्चों की क्या हालत रहती है खासकर मानसिक मंदित बच्चों की। ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि लोगो को उस दिव्यांगता के  बारे में सटीक एवं स्पष्ट जानकारी नहीं है।  ग्रामीण क्षेत्रों में मानसिक मंदता (Mental Retardation) या बौद्धिक अक्षमता (Intellectual Disability) के प्रति ऐसी अजीबो -गरीब भ्रांतिया फैली हुई हैं जिनकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते। हो सकता है आपने भी इनमे से कुछ भ्रांतियों के बारे में सुना होगा लेकिन शायद बहुत कम ही इनका सच जानते होंगे। इसीलिए आप इस पोस्ट को जरूर पढ़े।


आज हम इस पोस्ट में आपको ऐसी भ्रांतियां और उनका सत्य बताएँगे जो हमारे समाज में मानसिक मंदता के प्रति फैली हुई हैं।





 1. Misconception (मिथक ): मानसिक मंदता(Mental Retardation)/बौद्धिक अक्षमता(Intellectual Disability)  एक बीमारी या रोग है

 Truth (सत्य): मानसिक मंदता कोई बीमारी या रोग नहीं है बल्कि यह एक अक्षमता है जो व्यक्ति में जीवन भर रहती है।


2.  Misconception (मिथक ):  मानसिक मंदता(Mental Retardation) या बौध्दिक अक्षमता(Intellectual Disability)  जन्मजात होती है।

    Truth (सत्य): मानसिक मंदता जन्मजात नहीं होती है यह जन्म से पहले , जन्म के समय तथा जन्म के बाद भी विभिन्न ज्ञात कारणों से हो जाती है  लेकिन यह 18 साल से पहले ही हो जाती है।



3. Misconception (मिथक ): मानसिक मंदता(Mental Retardation) व्यक्ति को जीवन में कभी भी हो सकती है।

  Truth (सत्य):ऐसा बिलकुल भी नहीं है यह अक्षमता व्यक्ति में 18 साल से पहले ही होती है , बाद में नहीं। इस अक्षमता को बच्चे के लक्षणों को देखकर पहचाना जा सकता है। लक्षणों की जानकारी के लिए आप नीचे दी गयी Link पर Click करके हमारी Post को पढ़ सकते हैं।

मानसिक मंदता / बौद्धिक अक्षमता क्या है? (What is Mental Retardation / Intellectual Disability)


4. Misconception (मिथक ): मानसिक मंदता  बढ़ती उम्र के साथ ठीक हो जाती है।

    Truth (सत्य):  ऐसा बिलकुल भी नहीं है मानसिक मंदता से ग्रसित बच्चे को यदि आवश्यक प्रशिक्षण नही दिया गया तो उम्र उम्र बढ़ने के पश्चात उसके प्रभावों को कम करना बहुत ही कठिन हो जाता है।


5. Misconception (मिथक ): मानसिक मंदता(Mental Retardation) या बौध्दिक अक्षमता(Intellectual Disability)  को दवाओं से ठीक किया जा सकता  है।

  Truth (सत्य):मानसिक मंदता को दवाओं द्वारा ठीक नहीं किया जा सकता है ,मानसिक मंदता एक अवस्था है जिसके प्रभावों को आवश्यक प्रशिक्षण के द्वारा कुछ हद तक कम किया जा सकता है।     



6. Misconception (मिथक ): शादी करने से मानसिक मंदता समाप्त हो जाती है।

  Truth (सत्य): ऐसा बिलकुल भी नहीं होता है बल्कि यदि बच्चे को प्रशिक्षित नहीं किया गया है या बच्चे को रोजगार परक शिक्षा नहीं मिली है तो हो सकता है कि शादी करने से उसकी परेशानी और अधिक बढ़ सकती है क्योंकि शादी के बाद व्यक्ति पर बहुत सी जिम्मेदारियां आ जाती हैं और यदि वह इन जिम्मेदारियों का निर्वहन नही कर पाता है तो तनाव ग्रस्त स्थिति उत्पन्न होने लगती है।




7.  Misconception (मिथक ): ऐसे सभी बच्चों का दिमाग छोटा होता है।                                                       
  Truth (सत्य):वैसे तो मानसिक मन्दित बच्चो का दिमाग आकार में सामान्य बच्चो के सामान ही होता है ,लेकिन जब बच्चे को एक खास बीमारी हो तो बच्चे का दिमाग सामान्य बच्चों से छोटा ही होता है।  




8.  Misconception (मिथक ): यह बच्चे एवं माता -पिता के पूर्व जन्मों के पाप का फल है।

  Truth (सत्य):मानसिक मंदता(Mental Retardation) एक अक्षमता है है जिसके कई ज्ञात कारण खोजे जा चुके है अतः इसका किसी भी व्यक्ति के पूर्व जन्म के पाप से कोई लेना - देना नहीं है।




9. Misconception (मिथक ):  मानसिक मंदता या बौद्धिक अक्षमता(Intellectual Disability) भूत  -प्रेत के कारण होती है।

  Truth (सत्य):मानसिक मंदित बच्चे के लक्षणों के देख कर प्रायः लोग बच्चे में भूत - प्रेत का चक्कर मानने लगते है और बच्चे का झाड़ फूंक करवाते हैं इससे प्रायः बच्चो की परेशानी बढ़ जाती है  लेकिन सच यह है कि मानसिक मंदता के कई कारण ज्ञात हैं जिसे आप नीचे Link पर Click करके पढ़ सकते हैं।

मानसिक मंदता / बौद्धिक अक्षमता क्या है? (What is Mental Retardation / Intellectual Disability)


10.  Misconception (मिथक ): यह छुआ-छूत  से अन्य बच्चों में फ़ैल जाती है तथा इससे परिवार के अन्य सदस्य भी ग्रसित हो जाते हैं।

  Truth (सत्य):मानसिक मंदता(Mental Retardation) या बौद्धिक अक्षमता(Intellectual Disability)  एक बौध्दिक समस्या है जो कम IQ  को प्रदर्शित करती है अतः यह छुआ - छूत से अन्य बच्चों या परिवार के लोगो में नहीं फैलती है।



11. Misconception (मिथक ):मानसिक मंदित बच्चे शिक्षा ग्रहण नहीं कर सकते तथा स्वयं के दैनिक जीवन के कार्य भी नहीं कर सकते है।

  Truth (सत्य):ये बच्चे शिक्षा ग्रहण करते हैं इनकी शिक्षा के लिए कई विशेष विद्यालय भी खुले है।
मानसिक मंदता या बौद्धिक अक्षमता बच्चे में 18 वर्ष से पहले ही हो जाती है अतः यदि बच्चे को शुरुआत से ही मनोचिकित्सक से परामर्श लेकर बच्चे की आवश्यकतानुसार उसकी शिक्षा की व्यवस्था कर दी जाये और उसे आवश्यक प्रशिक्षण दिया जाये तो ये बच्चे अपने दैनिक जीवन के कार्य के साथ-साथ अपना जीविकोपार्जन भी कर लेते हैं

इसे भी पढ़े -

1. अबेकस क्या होता है? (What Is Abacus?)

2. मानसिक मंदता / बौद्धिक अक्षमता क्या है? (What is Mental Retardation / Intellectual Disability)


इसी प्रकार की अनेकों भ्रांतियां हमारे समाज में शिक्षा एवं जागरूकता की कमी के कारण फैली हुई है  जो हमारे दिव्यांग व्यक्तियों को समाज की मुख्य धारा में जोड़ने में बाधक बनी हुई है।

इस Post को अपने दोस्तों के साथ Share करें और उन्हें भी जागरूक करें तथा आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे Comment करके बताएं।




   
















मानसिक मंदता/बौद्धिक अक्षमता के बारे में 11 मिथक और सत्य (11 Misconceptions and Truth about Mental Retardation/Intellectual Disability) मानसिक मंदता/बौद्धिक अक्षमता के बारे में 11 मिथक और सत्य (11 Misconceptions and Truth about Mental Retardation/Intellectual Disability) Reviewed by Aman pal on 10:02 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.